BIG BREAKING: राजधानी में आज कुल 8 नए Containment Zone घोषित

राजधानी में आज कुल 8 नए कंटेंमेंट जोन घोषित किये गए। पिछले साल के लॉकडाउन के बाद 2021 में एक बार फिर से राजधानी के कई एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित करने का सिलसिला शुरू हो गया है। इस साल का सबसे पहला कंटेनमेंट जोन हीरापुर स्थित अविनाश प्राइड कॉलोनी में बनाया गया, जहां एक साथ 38 कोरोना मरीज निकल गए हैं। यहां सभी की कोरोना जांच की जा रही है। कंटेनमेंट जोन में सब बंद; दुकानें, आफिस और कमर्शियल गतिविधियों को प्रशासन ने पूरी तरह से बंद कर दिया है। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर लोग घरों से बाहर नहीं निकल पाएंगे। इसकी अनुमति भी सीएमएचओ से लेनी होगी। जरूरत के सामान की होम डिलीवरी के इंतजाम किए जाा रहे हैं। कोई बाहरी व्यक्ति यहां प्रवेश नहीं कर सकेगा। एहतियातन हर कंटेनमेंट जोन के प्रवेश द्वार पर प्रशासन और पुलिस अमला तैनात रहेगा।

मार्च में अब तक 180 से ज्यादा मौत हो चुकी हैं, जिनमें 50 केवल पिछले तीन दिन की हैं। कोरोना डेथ ऑडिट समिति के अध्यक्ष डा. सुभाष पांडे का कहना है कि प्रदेश में कोरोना से मौतों में कोमॉर्बिटिडी यानी मरीज को दूसरी बड़ी बीमारियां होना बड़ा कारण है। जिनकी मौत हो रही हैं, उनमें अधिकांश कैंसर, हार्ट, हाइपरटेंशन, किडनी, ब्रेन हेमरेज, डायबिटीज, एनीमिया, टीबी या एचआईवी जैसी गंभीर बीमारियों के मरीज भी थे। इसके अलावा, अस्पताल में भर्ती होने के 24 घंटे के भीतर 9.33 प्रतिशत लोगों की जान गई है। जबकि 1 प्रतिशत मरीजों की मृत्यु भर्ती होने के 48 घंटे के भीतर और 2 प्रतिशत की मृत्यु 72 घंटे के भीतर हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.