राजधानी में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का आयोजन होना हैं छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वज़ह – पूर्व मुख्मंत्री डॉ रमन सिंह।

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के कारण राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। राजधानी रायपुर में किसी भी अस्पताल में नए मरीज़ों के लिए जगह नहीं है। 28 में से 20 ज़िलों में लॉकडाउन के बीच अस्पतालों के बाहर मरीज़ों की कतार लगी हुई है।. एंबुलेंस में, अस्पताल की सीढ़ियों पर, बरामदों में मरीज़ आक्सीजन सिलेंडर लिए बैठे हुए हैं। अस्पताल में भर्ती होने की उम्मीद में साथ आए परिजन दिलासा दे रहे हैं। कोरोना संक्रमण के कारण होने वाली मौतों की बढ़ती संख्या के कारण राजधानी रायपुर के सबसे बड़े बाबा साहब भीमराव आंबेडकर अस्पताल के शव घर में नए शवों को रखने की जगह नहीं बची है। शमशान घाट में भी अंतिम संस्कार के लिए प्रतीक्षा करनी पड़ रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह का आरोप है कि राजधानी रायपुर में मार्च में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया, जिसमें राज्य भर की भीड़ उमड़ी और इसके बाद ही कोरोना तेज़ी से फैला। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी इस आशंका से इनकार नहीं किया। हालांकि छत्तीसगढ़ में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर महेश सिन्हा इन तमाम कारणों के अलावा राज्य के बाहर से लौटने वालों की निगरानी और जाँच में चूक को एक बड़ा कारण मानते हैं। उनका कहना है कि पिछले साल जब कोरोना के शुरुआती दौर में लोगों की वापसी हुई थी, तो गाँव-गाँव में क्वारंटीन सेंटर बनाए गए थे। सात लाख से अधिक लोगों को क्वारंटीन सेंटर में रखा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.