बीजापुर में शनिवार को सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इसमें 8 जवान शहीद हो गए हैं। करीब 3 घंटे से ज्यादा चली मुठभेड़ में कोबरा के 1, बस्तरिया बटालियन के 2 और DRG के 2 जवान शहीद हो गए। बस्तर IG पी सुदंरराज ने बताया कि अभी तक 9 नक्सलियों के मारे जाने की सूचना है, जबकि 15 से ज्यादा घायल हैं। स्थिति स्पष्ट करने में और समय लग सकता है। शनिवार देर रात तक 22 घायल जवानों को इलाज के लिए बीजापुर लाया जा चुका था। नक्सली हमले के बाद टेकलगुड़ा में रेस्क्यू करने पहुंचे जवानों पर नक्सलियों ने फिर IED ब्लास्ट कर दिया। धमाके में 1 जवान के घायल होने की खबर सामने आई है। मुठभेड़ के बाद आज जवान का रेस्क्यू करने निकले थे। इसी दौरान एक जवान का पैर पहले से प्लांट IED पर पड़ते ही ब्लास्ट हो गया।

बता दें शनिवार की इस घटना में अब तक 22 जवानों शहीद हो चुके हैं। मुठभेड़ में नक्सलियों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। तीन ट्रैक्टरों से नक्सली अपने साथियों को घटनास्थल से निकालने में कामयाब रहे हैं। सीआरपीएफ डीजी घायल जवानों से मिलने के बाद पुराने PHQ पहुंचे हैं। स्पेशल डीजी नक्सल ऑपरेशन अशोक जुनेजा भी साथ में शामिल है। पुराने PHQ में नक्सल हमले को लेकर बैठक जारी है। दोनों जगदलपुर भी जा सकते हैं। नक्सल डीजी अशोक जुनेजा के मुताबिक लापता 21 जवान में से 20 जवानों के शव मिले हैं। एक जवान अभी भी मिसिंग है।

नक्सलियों ने रॉकेट लॉन्चर और हैंड ग्रेनेड का इस्तेमाल किया है। दोनों तरफ से गोलियां भी चलाई गई। नक्सली भी काफी संख्या में मारे गए है। नक्सली अपने साथियों को तीन ट्रैक्टरों से ले गए हैं ऐसी जानकारी मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *